असमय बनाए संबंधों से पैदा होती है राक्षसी संतान, पढ़ें पौराणिक कथा – Punjab Kesari

4 hours ago
5 hours ago
7 hours ago
7 hours ago
9 hours ago
9 hours ago
11 hours ago
12 hours ago
13 hours ago
13 hours ago
15 hours ago
15 hours ago
17 hours ago
17 hours ago
17 hours ago
21 hours ago
23 hours ago
yesterday
yesterday
yesterday
yesterday
yesterday
yesterday
yesterday
yesterday
yesterday
yesterday
yesterday
yesterday
yesterday
Friday
Main Menu
धर्म/कुंडली टीवी
Gadgets
Photos
Videos
हिमाचल प्रदेश
पंजाब
हरियाणा
उत्तर प्रदेश
Breaking
असमय बनाए संबंधों से पैदा होती है राक्षसी संतान, पढ़ें पौराणिक कथा
Edited By Niyati Bhandari,Updated: 30 Jul, 2022 03:20 PM
सनकादि ऋषियों के शाप से जय-विजय का असुरयोनि में जन्म होना निश्चित हो चुका था। सायंकालीन संध्या-वंदन का समय था। महर्षि कश्यप अपनी यज्ञशाला में नित्यकर्म-पूजा पाठ की तैयारी कर रहे थे। उसी समय उनकी पत्नी दिति सर्वश्रेष्ठ पुत्र प्राप्ति की कामना से उनके…
शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
Varaha Avatar Story: सनकादि ऋषियों के शाप से जय-विजय का असुरयोनि में जन्म होना निश्चित हो चुका था। सायंकालीन संध्या-वंदन का समय था। महर्षि कश्यप अपनी यज्ञशाला में नित्यकर्म-पूजा पाठ की तैयारी कर रहे थे। उसी समय उनकी पत्नी दिति सर्वश्रेष्ठ पुत्र प्राप्ति की कामना से उनके समीप पहुंची। तपोनिष्ठ महर्षि ने असमय जान कर दिति को अनेक प्रकार से समझाने का प्रयत्न किया किन्तु उसके दुराग्रह के कारण वह विवश हो गए।
PunjabKesari Varaha Avatar
प्रभु की इच्छा जानकर उन्होंने दिति को संतुष्ट किया। तदनन्तर दिति के क्षमा याचना करने पर उन्होंने कहा, ‘‘देवी! तुम्हारा अपराध अक्षम्य है। कामासक्त होने के कारण तुम्हारा चित्त मलिन हो गया था। तुमने असमय का ध्यान नहीं रखा, मेरी आज्ञा का उल्लंघन किया और रुद्रगणों का तिरस्कार किया है। इसके कारण तुम्हारे गर्भ से दो अत्यंत पराक्रमी और क्रूर कर्म करने वाले पुत्र उत्पन्न होंगे। उनका वध करने के लिए भगवान नारायण स्वयं अवतार लेंगे।

भगवान पर भरोसा रखें पर अंधविश्वास में न पड़ें
Motivational Concept: मन में होना चाहिए सेवा का भाव
Mahabharat: 18 दिनों की लड़ाई के बाद कैसे पांडवों को मिली थी जीत!
1100  रुपए मूल्य की जन्म कुंडली मुफ्त में पाएं। अपनी जन्म तिथि अपने नाम, जन्म के समय और जन्म के स्थान के साथ हमें 96189-89025 पर व्हाट्सएप करें
PunjabKesari Varaha Avatar
अपने पति के तेज को दिति ने सौ वर्षों तक धारण किया। सौ वर्ष पूरे होने पर दिति के दो जुड़वां पुत्र हुए। पहला पुत्र हिरण्याक्ष और दूसरा हिरण्यकशिपु के नाम से प्रसिद्ध हुआ। उनके पृथ्वी पर पांव रखते ही पृथ्वी, आकाश और स्वर्ग में अनेक प्रकार के उपद्रव होने लगे। सर्वत्र अमंगल सूचक दृश्य दिखाई देने लगे। जन्म लेते ही दोनों दैत्य पर्वताकार रूप में हो गए। उन्होंने सर्वत्र उपद्रव मचाना शुरू कर दिया।
वे आसुरी राज की स्थापना के लिए कृत संकल्प थे। हिरण्याक्ष ने देवलोक पर आक्रमण करके देवताओं को खदेड़ दिया। उसने सोचा कि ‘ये देवगण पृथ्वी पर होने वाले यज्ञ से पुष्ट होते हैं। इन्हें दुर्बल करने के लिए मैं इस पृथ्वी को ही रसातल में पहुंचा दूंगा।’’
ऐसा विचार कर वह पृथ्वी को ही लेकर रसातल में चला गया। वरुण से भगवान के पराक्रम की बात सुन कर वह उनसे युद्ध करने के लिए उन्हें सर्वत्र ढूंढने लगा।
PunjabKesari Varaha Avatar
हिरण्याक्ष के अत्याचार से सभी देवता, ऋषि-महर्षिगण अत्यंत दुखी थे। उसी समय ब्रह्मा जी के संकल्प से स्त्री-पुरुष का एक जोड़ा उत्पन्न हुआ जो मनु-शतरूपा के नाम से विख्यात हुआ। ब्रह्मा जी ने उन्हें मैथुनी सृष्टि की आज्ञा दी। मनु ने कहा, ‘‘प्रभो! आप मेरी भावी मानवी प्रजा के रहने योग्य स्थान बतलाइए, क्योंकि पृथ्वी तो जल में डूबी हुई है।’’
पृथ्वी के उद्धार तथा हिरण्याक्ष के वध के लिए ब्रह्मादि देवगणों ने भगवान का स्मरण किया। प्रभु की स्मृति से अकस्मात ब्रह्मा जी की नासिका से अंगूठे के बराबर एक श्वेत वराह शिशु प्रकट हुआ। प्रकट होते ही वह विशाल आकार वाला हो गया। सभी लोगों ने वराह रूपी श्री हरि की वंदना की।
सबके देखते-देखते भगवान वराह समुद्र में कूद पड़े और जल को चीरते हुए रसातल में जा पहुंचे। भगवान को अपने उद्धार के लिए आया जान कर पृथ्वी देवी ने उनकी स्तुति की। तदनन्तर भगवान ने बड़ी भयंकर गर्जना की और अपनी दाढ़ों पर पृथ्वी को रख कर समुद्र से बाहर निकालने लगे। उनकी गर्जना सुन कर हिरण्याक्ष उनसे युद्ध के लिए आ धमका। 
भगवान वराह और हिरण्याक्ष का घमासान युद्ध हुआ। अंत में वह भगवान के हाथों मारा गया। उस समय देवताओं ने भगवान वराह पर पुष्पवृष्टि करते हुए उनकी तरह-तरह से स्तुति की। भगवान वराह पृथ्वी को स्थापित करके अंतर्धान हो गए। इस प्रकार श्वेत वराह कल्प की सृष्टि प्रारंभ हुई।
PunjabKesari kundli
 
Chhattisgarh: बौद्ध सम्मेलन में हिंदू देवी- देवताओं का कथित अपमान
Amritsar: शिरोमणि कमेटी के जनरल इजलास में सिख मामलों संबंधी कई प्रस्ताव पास
Thursday special: SLIM और FIT रहना चाहते हैं तो आज करें ये उपाय
Daily Horoscope : आज इन राशियों के जातक हर संकट को देंगे मात
Tarot Card Rashifal (10th November, 2022):  टैरो कार्ड्स से करें अपने भविष्य के दर्शन
Kaithal: मन्नत पूरी होने पर डेढ़ वर्षीय बेटे को डेरे में किया दान
Nankana Sahib: ननकाना साहिब में गुरुपर्व संबंधी 3 दिवसीय समागम सम्पन्न
Astrological prediction: इमरान पर फिर हमला होगा, तीसरा विश्व युद्ध 2030 के बाद
Karnataka: कर्नाटक से चोरी बालाजी की मूर्ति  तमिलनाडु में जब्त
आज जिनका जन्मदिन है, जानें कैसा रहेगा आने वाला साल
CAD $
10/11/2022 09:30 IST
USD $
10/11/2022 09:30 IST
AUD $
10/11/2022 09:30 IST
EUR €
10/11/2022 09:30 IST
NZD $
10/11/2022 09:30 IST
AED د.إ
10/11/2022 09:30 IST
GBP £
10/11/2022 09:30 IST
Bitcoin
Ethereum
Tether
BNB
USD Coin
XRP
Terra
Solana
मेष राशि वालों परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थल पर जा सकते हैं। माता-पिता का आशीर्वाद लेकर सभी
वृष राशि वालों आर्थिक व्यय की स्थितियां बनी हुई हैं। रुकी हुई पेमेंट मिलने के आसार हैं। पिता से संबंधों में
मिथुन राशि वालों के लिए आज का दिन विवादों से भरा रहेगा। सरकारी काम अधूरे रहेंगे। जल्दबाजी में लिया निर्णय
कर्क राशि वालों आर्थिक मामलों के लिए दिन अनुकूल है। आय के नए स्त्रोत खुलेंगे। युवाओं को किसी बड़ी कंपनी से
सिंह राशि वालों आज अचानक से कहीं रुका धन प्राप्त हो सकता है। जो जातक नई नौकरी की खोज में
कन्या राशि वालों आज प्रॉपर्टी में निवेश करना उत्तम रहेगा। ऑफिस में अधिकारियों के साथ संबंध काफी
तुला राशि के जातकों के लिए दिन शुभ फलदायक रहेगा। कारोबार के महत्वपूर्ण निर्णय लेने में कामयाब रहेंगे।
वृश्चिक राशि वालों बॉस आपकी मीठी वाणी से प्रसन्न रहेंगे। आपके विचारों को प्राथमिकता मिलेगी। फाइनेंस से
धनु राशि वालों आज का दिन आपके लिए मुश्किलें लेकर आएगा। युवाओं को नौकरी के लिए अत्यधिक मेहनत करनी
मकर राशि वालों के लिए दिन खुशियों भरा रहेगा। हर क्षेत्र में आपको कामयाबी मिलती रहेगी। जीवनसाथी के
कुंभ राशि वालों आपका कोई करीबी मित्र आपके बनते काम बिगाड़ सकता है। आपको सावधान रहने की जरूरत है।
मीन राशि वालों बिजनेस में किसी नए काम को किया गया प्रयास सफल रहेगा। कर्मचारियों के साथ किसी भी
Everyday news at your fingertips
Try the Punjab Kesari E-Paper premium service
1800 137 6200
Jalandhar
Address : Civil Lines, Pucca Bagh Jalandhar Punjab
Ph : 0181-5067200, 2280104-107
Email : support@punjabkesari.in
Copyright @ 2022 PUNJABKESARI.IN All Rights Reserved.
अमेरिका में खुदरा महंगाई दर अक्टूबर में नरम पड़कर 7.7 प्रतिशत रही
भगवंत मान सरकार ने स्कूलों में और सुधार लाने के लिया ये अहम फैसला
महानगर में बीमारियों ने मचाया कहर, आज इतने मामले आए पॉजिटिव
ट्रंप को आगामी राष्ट्रपति चुनाव की दावेदारी को लेकर घोषणा टालने की सलाह
अमेरिका में मध्यावधि चुनाव में साइबर हमले के कोई संकेत नहीं
फीडबैक दें
Thoughts
Jokes

source


Article Categories:
धर्म
Likes:
0

Related Posts


    Popular Posts

    Leave a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *