अंकिता के हत्यारे को फांसी की सजा और पीड़ित परिवार को 50 लाख का मुआवजा दिया जाये,रिंपी शर्मा

कपूरथला(राजेश सेठी/हरप्रीत सिंह पूर्वा)झारखंड के दुमका की बेटी अंकिता पर पेट्रोल छिड़कर जिंदा जलाने की घटना ने हर किसी के मन को विचलित कर दिया है।अंकिता की मौत की खबर मिलते ही पुरे देश में लोगों का गुस्सा उबाल पर है।मंगलवार को भाजपा जिला सचिव रिंपी शर्मा ने झारखंड की हेमंत सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि शाहरुख की सनक की शिकार हुई अंकिता की जान बचाई जा सकती थी,अगर उसे बेहतर इलाज मिल पाता।एक ओर रांची में मंदिरों पर हमला करने वाले युवक नदीम को राज्य सरकार एयर एम्बुलेंस से सरकारी खर्च पर दिल्ली भेज मेदांता में इलाज करवाती है,वहीं अंकिता को रांची भेजने तक की व्यवस्था नहीं कर पाती।रिंपी शर्मा ने कहा कि इस हैवानियत की घटना ने राज्य को कंलकित किया है।इस जघन्य घटना को अंजाम देने वालों को अविलंब फांसी की सजा दी जाये।रिंपी शर्मा ने अंकिता के निधन पर आक्रोश व्यक्त करते हुए कहा कि झारखंड की हेमंत सरकार में तुष्टिकरण के कारण दुमका की बेटी अंकिता की मौत हुई।विगत पांच दिन पूर्व शाहरुख ने अंकिता को पेट्रोल छिड़ककर जलाने का प्रयास किया था।जली हुई अवस्था में रिम्स में चल रहे इलाज के दौरान देर रात जीवन और मौत का संघर्ष करते हुए उसकी मौत हो गयी।उन्होंने ने कहा कि झारखंड में लगातार महिलाओं,बेटियों पर हमले हो रहे हैं।बावजूद इसको रोकने में सरकार ने कड़ाई से एक्शन नहीं लिया।लव जिहाद के मामले इस सरकार में बढ़े हैं।रिंपी शर्मा ने मांग की कि अंकिता के हत्यारे को फांसी की सजा फास्ट ट्रैक कोर्ट के माध्यम से सरकार दिलाये।साथ ही 50 लाख का मुआवजा पीड़ित परिवार को दी जाए।साथ ही अंकिता के परिवार को सुरक्षा प्रदान करे।


Article Categories:
धर्म · पंजाब · राजनीति
Likes:
0

Leave a Comment

Your email address will not be published.