Business Idea: हर घर में इस्तेमाल होने वाले इस प्रोडक्ट के बिजनेस से होती है लाखों की कमाई, कैसे शुरू करें?… – News18 हिंदी

Business Idea: अगर आप भी कोई बिजनेस करने का सोच रहे हैं तो अगरबत्ती आपके लिए एक विकल्प हो सकता है. इसकी वजह है इसकी डिमांड. अगरबत्ती एक ऐसी प्रोडक्ट है जिसका इस्तेमाल ज्यादातर घरों में होता है. मंदिरों में होता है और हर हिंदू त्यौहार, पूजा-पाठ में होता ही होता है. लिहाजा इसका ग्राहक वर्ग बहुत बड़ा है.
अगरबत्ती को विभिन्न रंगों और सुगंधों में खरीदा जा सकता है. एक अगरबत्ती के जलने का समय उसकी कीमत और टिकाऊपन के आधार पर 15 मिनट से घंटों में बदल जाता है. अगरबत्ती अन्य रूपों में भी उपलब्ध है, जैसे दशंग (एक चिपचिपा पेस्ट या अगरबत्ती बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला पाउडर), धूप और शंकु, गोलियां आदि).
विदेशों में डिमांड
अगरबत्ती सिर्फ भारतीय बाजारों में ही नहीं, बल्कि अन्य एशियाई देशों में भी बेची जा सकती है. 2017 और 2018 में, भारत ने जापान और चीन जैसे एशियाई देशों को 500 करोड़ से अधिक अगरबत्ती भेजी. ऐसी अगरबत्ती का उपयोग 90 से अधिक देशों में किया जाता है, इसलिए अक्सर इनकी भारी मांग रहती है. भारतीय अगरबत्ती उद्योग विश्व स्तर पर सबसे सक्रिय कुटीर उद्योगों में से एक है, जिसमें 20 लाख से अधिक श्रमिक कार्यरत हैं.
यह भी पढ़ें- काम की बात : पर्सनल लोन पर लगने वाला ब्याज भी दिला सकता है टैक्स में छूट का लाभ, समझें कैसे
 कंपनी पंजीकरण: अगरबत्ती बनाने का व्यवसाय शुरू करने का पहला कदम अपने व्यवसाय को पंजीकृत करना है. सबसे पहले, आपको व्यवसाय को एक कंपनी, स्वामित्व, साझेदारी आदि के रूप में पंजीकृत करना होगा.
व्यापार लाइसेंस: व्यवसाय चलाने वाले प्रत्येक व्यक्ति को व्यापार लाइसेंस की आवश्यकता होती है. स्थानीय निकाय जैसे निगम, नगर पालिकाएं व्यापार लाइसेंस जारी करती हैं.
लघु उद्योग (एसएसआई) पंजीकरण: जिनके पास एक छोटे पैमाने की कंपनी है, उन्हें इस पंजीकरण को पूरा करने के लिए पंजीकरण करना होगा, जिसका संयंत्र और मशीनरी में निवेश 25 लाख रुपये से अधिक नहीं है.
प्रदूषण प्रमाण पत्र: यह प्रमाण पत्र आवश्यक है और यह उस स्थान का निरीक्षण करके प्राप्त किया जाता है जहां निर्माण इकाई स्थित है. राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड यह कार्य करता है, जिसके बाद किसी को व्यवसाय चलाने की अनुमति दी जाती है.
फैक्टरी लाइसेंस: बड़े पैमाने पर विनिर्माण वाणिज्यिक इकाइयों के लिए एक एनओसी और फ़ैक्टरी लाइसेंस की आवश्यकता होती है.
अगरबत्ती बनाने की मशीन की कीमत
भारत में अगरबत्ती बनाने की मशीन की कीमत 35000 रुपए से 175000 रुपए तक है. कम दाम वाली मशीन में प्रोडक्शन कम होती है और आपको इससे ज्यादा मुनाफा नहीं होगा. मेरा ये सुझाव है की आप अगरबत्ती बनाने वाली आटोमेटिक मशीन से काम स्टार्ट करें क्यूंकि ये बहुत तेजी से अगरबत्ती बनता है. आटोमेटिक मशीन की कीमत 90000 से 175000 रुपए तक है. एक आटोमेटिक मशीन एक दिन में 100kg अगरबत्ती बन जाती है.
यह भी पढ़ें- Business Idea : बहुत कम लागत में शुरू करें मैरिज ब्यूरो का बिजनेस, जोड़ियां मिलाकर बनाएं मुनाफा
अगरबत्ती बनाने के लिए सामग्री
अगरबत्ती बनाने के लिए सामग्री में गम पाउडर, चारकोल पाउडर, बांस, नर्गिस पाउडर, खुशबूदार तेल, पानी, सेंट, फूलों की पंखुड़ियां, चंदन की लड़की, जेलेटिन पेपर, शॉ डस्ट, पैकिंग मटीरियल आदि शामिल हैं.
अगरबत्ती बनाने में लगने वाला समय
अगरबत्ती के निर्माण का समय आपके द्वारा इस्तेमाल की गयी मशीन के अनुसार अलग हो सकता है जैसे की अगर आप ऑटोमेटिक मशीन का इस्तेमाल कर रहे है तो आप 1 मिनट में 150 से 200 अगरबत्ती तक का निर्माण कर सकते है. यदि आप हाथों से इसका निर्माण कर रहे है या करा रहे है तो इसमें लगने वाला समय आपके या कर्मचारी के कार्य करने की क्षमता पर निर्भर करता है.
अगरबत्ती व्यवसाय को शुरू करने में लगने वाली कुल लागत
इस बिजनेस को आप 13,000 रूपये की लागत के साथ घरेलु तौर पर भी हाथों से निर्माण कर शुरू कर सकते है, लेकिन अगर आप अगरबत्ती के बिजनेस को मशीन बैठाकर शुरू करने की सोच रहे है तो इसको शुरू करने में लगभग 5 लाख रूपये तक की लागत लग सकती है.
कितना होगा मुनाफा
अगर आप 30 लाख का सालाना बिज़नेस करते हैं तो 10% फायदे के साथ आप 3 लाख रुपए कमा सकते हैं. यानी आप हर महीने 25 हजार रुपए की कमाई कर सकते हैं.
ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी | आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी |
Tags: Business ideas, Business loan, Business news, Business opportunities

ये 7 रत्न पहनने से स्वास्थ्य समस्याओं का होता है निराकरण
क्रिकेट के मैदान में इन 10 खिलाड़ियों का रहा है जलवा, जीते हैं सर्वाधिक बार 'प्लेयर ऑफ द सीरीज'
PHOTOS: गाजियाबाद की एसडीएम पर आवारा कुत्तों ने किया हमला, अस्पताल में होना पड़ा भर्ती
मेष
वृषभ
मिथुन
कर्क
सिंह
कन्या
तुला
वृश्चिक
धनु
मकर
कुंभ
मीन

source


Article Categories:
बिज़नेस
Likes:
0

Leave a Comment

Your email address will not be published.