ऐसे कीजिए पापड़ का बिजनेस, होगी अच्छी खासी कमाई – Prabhasakshi

बिज़नेस
स्पोर्ट्स
मिसाल बेमिसाल
लाइफस्टाइल
मनोरंजन जगत
राजनीति
धर्म
नौकरी करना हर किसी के बस की बात नहीं है, इसलिए लोग अपना काम-धंधा यानी कोई व्यापार-कारोबार करना चाहते हैं। यदि आप भी ऐसी ही सोच रखते हैं तो कम खर्चे में पापड़ का कारोबार शुरू कीजिए। फिर जैसे-जैसे इस धंधे में आपका अनुभव बढ़े, आप अपना निवेश बढ़ाते जाइए। इससे आपका धंधा भी बढ़ने लगेगा और मुनाफा भी। 

आमतौर पर पापड़ बनाने के बिजनेस को आप अपने छोटे से घर से ही शुरू कर सकते हैं। क्योंकि इसे आप बहुत ही कम पैसों से भी शुरू कर सकते हैं। हालांकि, यदि आपके पापड़ का स्वाद यूनीक और खास रहा तो आप मोटी कमाई भी कर सकते हैं। दरअसल, पापड़ का बिजनेस छोटे लेवल पर करने के लिए आपको ना तो कोई मशीन चाहिए, ना ही कोई इक्विपमेंट। हालांकि, यदि आप बड़े लेवल पर यह बिजनेस करते हैं तो उसके लिए आपको मशीनों और जगह दोनों पर अच्छे खासे रुपये-पैसे खर्च करने पड़ेंगे। 

दरअसल, पापड़ बनाना एक ऐसा कार्य है, जिसे आम कम जगह और कम पूंजी लगाकर भी शुरू कर सकते हैं। तत्पश्चात अपनी मांग के अनुपात में आपूर्ति बढ़ाते जाइए। ऐसा करते करते एक दिन आपका बिजनेस भी बड़ा हो जाएगा। इसलिए आप यहां पर जानिए कि कैसे आप भी पापड़ का बिजनेस शुरू कर सकते हैं और घर बैठे-बैठे ढेर सारा पैसा कमा सकते हैं।
यदि आप एक महिला हैं तो पापड़ बनाने का बिजनेस आप बहुत अच्छी तरह से कर सकती हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि अमूमन महिलाएं स्वादिष्ट खाना बनाने में पुरुषों से अच्छी मानी जाती हैं। वहीं, यदि आप पुरुष हैं तो भी आप यह बिजनेस शुरू कर सकते हैं। इसके तहत आप बहुत ही कम निवेश के साथ अपना बिजनेस शुरू कर सकते हैं। आप इसे जीरो इन्वेस्टमेंट बिजनेस भी कह सकते हैं। 

# ऐसे बनता पापड़ और बढ़ता है बिजनेस
स्वादिष्ट पापड़ बनाने के लिए तमाम तरह के दालों को पीस कर उनमें मसाले मिलाकर उनसे पापड़ बनता है। इसे गूंथने के बाद इसकी छोटी-छोटी लोइयां बनाकर उन्हें बेला जाता है और फिर धूप में या मशीन से सुखाया जाता है। देखा जाए तो घर में महिलाएं दिन में 2-3 घंटे का वक्त निकाल कर भी पापड़ बना सकती हैं। हालांकि पापड़ कैसा बनाना है, ये तो आपको खुद ही तय करना होगा। वहीं कुछ समय बाद आप मांग के हिसाब से यह समझ जाएंगे कि लोगों को कैसा या कौन सा पापड़ पसंद आ रहा है। 

वहीं, यदि बड़े लेवल पर पापड़ का बिजनेस करना है तो तमाम तरह की मशीनें लगानी होंगी। ऐसे में आपको अधिक रुपये-पैसों की जरूरत होगी, जो मुद्रा लोन से पूरी हो सकती है। यदि आप कंपनी खोलना चाहते हैं और अपने पापड़ को बड़े लेवल पर देश भर में या विदेशों तक बेचना चाहते हैं तो आपको अपनी पापड़ कंपनी के लाइसेंस से लेकर फूड रेगुलेटर्स के एफएससएआई जैसे लाइसेंस की जरूरत भी पड़ेगी।

# जानिए, कितनी लागत पर कितना होगा मुनाफा?
जानकारों के मुताबिक, पापड़ के बिजनेस में आपको लगभग 35-40 प्रतिशत का मुनाफा होगा। यदि आप 1 लाख रुपये का कच्चा माल लाते हैं तो उससे पापड़ बनाकर उसे करीब 1.4-1.5 लाख रुपये तक में बेच सकते हैं। वहीं, यदि बात करें लागत की तो यह इस बात पर निर्भर करेगा कि आप कितना बड़ा बिजनेस करते हैं।
यदि आप घर में ही पापड़ बनाते हैं, जिसमें कोई मशीन इस्तेमाल नहीं होती है तो आपका खर्च सिर्फ कच्चे माल पर ही होगा। उसके अलावा, आपको पापड़ बेलने के लिए चकला-बेलन समेत एक-दो और चीजों की जरूरत पड़ेगी, जो हर घर के किचन में उपलब्ध होते ही हैं। वहीं यदि आप मशीनें लगाते हैं तो आपकी लागत मशीनों के हिसाब से बढ़ती चली जाएगी।

अमूमन दालों और मसालों के रेट आए दिन बदलते रहते हैं, ऐसे में आप अपने पापड़ का रेट उसकी लागत के हिसाब से खुद तय कर सकते हैं। दरअसल अलग-अलग दालों के रेट अलग-अलग होते हैं, ऐसे में यह जरूरी नहीं है कि हर तरह के पापड़ की कीमत एक जैसी ही हो।

# मोटा खर्च करेंगे तो होगा तगड़ा मुनाफा
अगर आपके पापड़ की मांग अच्छी रहने लगे तो आप अपने बिजनेस को बड़े लेवल पर भी शुरू कर सकते हैं। 

यदि आप बड़े स्तर पर बिजनेस करते हैं तो आपको दालों को पीसने के लिए ग्राइंडिंग मशीन, उसे तमाम पीसे हुए और खड़े मसालों आदि के साथ मिलाने के लिए मिक्सर, पापड़ बनाने के लिए पापड़ प्रेस मशीन, पापड़ को सुखाने के लिए पापड़ ड्राइंग मशीन और पैकिंग करने के लिए पापड़ पैकिंग मशीन की जरूरत होगी। 

सरकारी संस्था एनएसआईसी के आंकड़ों के मुताबिक, यदि आप 25-30 हजार किलो सालाना की क्षमता वाला पापड़ का बिजनेस करना चाहते हैं तो आपको लगभग 6 लाख रुपये का निवेश करना पड़ेगा। इसमें 3 लाख फिक्स्ड कैपिटल होगी और बची हुई 3 लाख वर्किंग कैपिटल। इस स्तर पर बिजनेस करने के लिए आपको 250-300 एसक्वायर मीटर की जगह की भी जरूरत पड़ेगी।

# समझिए, कहां, कैसे और किसको बेचें पापड़?
जानकारों के मुताबिक, आपको पापड़ बनाकर कोई फायदा नहीं होगा, यदि आप उसे बेच नहीं पाते हैं। ऐसे में बेहतर होगा कि आप छोटे स्तर पर अपने घर से ही पापड़ बनाना शुरू कीजिए। फिर उसे अपनी सोसाइटी, गांव या मोहल्ले में सप्लाई कीजिए। आप अपने आस-पास की दुकानों पर भी पापड़ के लिए संपर्क कर सकते हैं। 

वहीं, यदि बड़े लेवल पर बिजनेस करना है तो पहले अच्छे तरह से मार्केट रिसर्च करें, दूसरी कम्पनियों की स्ट्रेटजी समझ लें, फिर यह देखें कि बाकी कंपनियों के पापड़ बिजनेस की स्ट्रेटजी क्या है, कीमत क्या है और सेलिंग स्ट्रेटेजी क्या है? इस तरह से पूरी बातों की रिसर्च कर लें, ताकि लाखों रुपये पूंजी लगाने के बाद यह नहीं सोचना पड़े कि बिजनेस बंद करना है।
बता दें कि छोटे लेवल पर बिजनेस में मार्केटिंग के लिए आपका कोई खास खर्च नहीं होगा, लेकिन बड़े लेवल पर खर्च होगा। ऐसे में आपका मार्जिन घटेगा, लेकिन बड़े लेवल पर प्रोडक्शन बहुत अधिक होगा। इसलिए मुनाफे में कमी नहीं आएगी, बल्कि बढ़ोतरी ही होगी। 

# सरकार से कैसे मिल सकती है मदद? 
इन दिनों मोदी सरकार हर किसी को अपना बिजनेस और स्टार्टअप शुरू करने के लिए प्रोत्साहित कर रही है। अपना बिजनेस शुरू करने या उसे बड़ा करने के लिए आप सरकार की मुद्रा लोन स्कीम का फायदा उठा सकते हैं। इस तरह से आपके पैसों की समस्या भी खत्म हो जाएगी और आप पापड़ों की क्वालिटी और उनकी मार्केटिंग पर पूरा ध्यान दे पाएंगे।

– कमलेश पांडेय
वरिष्ठ पत्रकार व स्तम्भकार
Tags
अन्य न्यूज़
Quick Links
प्रभासाक्षी.कॉम पर आपको मिलेंगे देश-दुनिया के ताज़ा समाचार हिंदी में, Get all the Latest News in Hindi, Breaking News in Hindi, Videos in Hindi, Hindi News Live, Hindi News on prabhasakshi.com
आप हमें फॉलो भी कर सकते है

source


Article Categories:
बिज़नेस
Likes:
0

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *