राहुल गाँधी को लगता है की देश में सिर्फ गांधी परिवार ही स्वतंत्रता सेनानी हो और कोई नहीं,प्रदीप ठाकुर

कपूरथला(बॉबी शर्मा)विनायक दामोदर सावरकर जिन्हें आज हर कोई वीर सावरकर के नाम से जानता है।लेकिन,कांग्रेस पार्टी की गंदी सोच बार-बार सामने आ ही जाती है।कभी खुद राहुल बाबा वीर सावरकर पर गंदी टिप्पणी करके अपनी राजनीति चमकाते हैं,तो कभी कांग्रेस पार्टी के मुद्दों को भुनाने के लिए राष्ट्रवाद के सबसे बड़े नायक को कोसना शुरू कर देती है।वीर सावरकर पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी की टिप्पणी को लेकर भाजपा ने निशाना साधा है।भाजपा नेता प्रदीप ठाकुर शुक्रवार को चेतावनी देते हुए कहा कि देश के लोग सावरकर का अपमान बर्दाश्त नहीं करेंगे।साथ ही उन्होंने सावरकर का अपमान करने पर कहा कि भारत जोड़ो यात्रा भारत तोड़ो यात्रा बन कर रह गई है।उन्होंने वीर सावरकर के खिलाफ टिप्पणी को लेकर राहुल गांधी की आलोचना करते हुए कहा कि राहुल गाँधी को तो यह लगता है की देश में सिर्फ गांधी परिवार ही स्वतंत्रता सेनानी हो और कोई नहीं।ठाकुर ने कहा कि स्वतंत्रता सेनानी और शहीद वीर सावरकर के नाम पर कांग्रेस हमेशा से राजनीति करती आई है।ठाकुर ने कहा कि इससे पहले भी कई मौकों पर कांग्रेस नेता वीर सावरकर के लिये अपमानजनक भाषा का का इस्तेमाल करते रहे हैं।राहुल गांधी ने तो ये तक कह दिया था कि मैंने सिर्फ़ इतना कहा कि गांधी हमारे हैं और सावरकर आपके,क्या कुछ ग़लत कहा?आपने क्या सावरकर को निकालकर फेंक दिया।अगर ऐसा है तो बहुत अच्छा किया।उन्होंने कहा कि राहुल गांधी की मंशा को समझने के लिए उनके बयानों को याद किया जा सकता है।हर मौके पर वो सावरकर को कोसते रहे हैं।ठाकुर ने कहा कि राहुल गांधी स्वतंत्रता सेनानी के बारे में बेशर्मी से झूठ बोल रहे हैं।उन्होंने कहा कि देश के लोग हिंदुत्व विचारक वीर सावरकर का अपमान करने वाले लोगों को उचित जबाव देंगे।ठाकुर ने कहा कि राहुल गांधी,अन्य कांग्रेस नेताओं की तरह,दिवंगत वीर सावरकर के बारे में रोजाना झूठ बोलते रहते हैं।देश के लोग उन्हें सही समय पर उचित जवाब देंगे।बता दें कि राहुल गांधी ने महाराष्ट्र में अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में विनायक दामोदर सावरकर द्वारा अंग्रेजी सरकार को लिखी चिट्ठी दिखाते हुए कहा कि उन्होंने अंग्रेजों से माफी मांगी थी और उनसे कहा था,सर,मैं आपका नौकर रहना चाहता हूं।राहुल गांधी ने कहा कि सर मैं आपका नौकर रहना चाहता हूं,मैने नहीं लिखा सावरकर जी ने अंग्रेजों को लिखा था।गांधी,नेहरू,पटेल भी जेल में गए।उन्होंने माफी नहीं मांगी।लेकिन सावरकर ने माफी मांग ली।


Article Categories:
पंजाब · राजनीति · लेटेस्ट
Likes:
0

Related Posts


    Popular Posts

    Leave a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *