WION और Zee Business में मधु सोमन को मिली यह बड़ी जिम्मेदारी – Samachar4media

‘जी मीडिया कॉर्प’ (Zee Media Corp) ने ‘ZMCL’, ‘IDPL’ और ‘DMCL’ बिजनेस में बड़े फेरबदल किए हैं। नए मैनेजमेंट ढांचे के लिए यहां क्लस्टर की व्यवस्था खत्म की जा रही है।
‘जी मीडिया कॉर्प’ (Zee Media Corp) ने ‘ZMCL’, ‘IDPL’ और ‘DMCL’ बिजनेस में बड़े फेरबदल किए हैं। नए मैनेजमेंट ढांचे के लिए यहां क्लस्टर की व्यवस्था खत्म की जा रही है।
कंपनी की ओर से इस बारे में जारी आधिकारिक घोषणा के अनुसार, इन बदलावों के तहत मधु सोमन ‘जी बिजनेस’ (Zee Business) और ‘विऑन’ (WION) के चीफ बिजनेस ऑफिसर होंगे। इसमें लिनियर और डिजिटल दोनों शामिल हैं।
बता दें कि सोमन ने अगस्त 2022 में ‘विऑन’ जॉइन किया था। इससे पहले वह ‘ब्लूमबर्ग एलपी’ (Bloomberg LP) में हेड ऑफ ब्रॉडकास्ट सेल्स (एशिया-पैसिफिक) के तौर पर अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे। इसके अलावा अगस्त 2012 से अक्टूबर 2014 के बीच वह लंदन व यूके में ‘रॉयटर्स वीडियो सर्विस’ में मैनेजिंग एडिटर भी रहे थे।
त्रिवेंद्रम के मूल निवासी मधु सोमन ने ‘केरल लॉ एकेडमी’ के अलावा दिल्ली स्थित ‘इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ कम्युनिकेशन’ (IIMC) से पढ़ाई की है।  
इससे पहले हेमंत घई करीब 17 साल से ‘सीएनबीसी आवाज’ (CNBC Awaaz) में अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे।
मीडिया वेंचर ‘भारत एक्सप्रेस’ (Bharat Express) ने हेमंत घई को न्यूज डायरेक्टर (स्टॉक्स, जनरल मार्केट और बिजनेस सेगमेंट) के पद पर नियुक्त किया है। बता दें कि घई हिंदी बिजनेस न्यूज चैनल ‘सीएनबीसी आवाज’ (CNBC Awaaz) को लॉन्च करने वाली टीम के फाउंडर मेंबर रहे हैं। वह जून 2004 से जनवरी 2021 तक इस चैनल से जुड़े रहे थे।
घई वर्ष 2004 में इस चैनल में ट्रेनी के रूप में शामिल हुए थे और प्रोडक्शन असिस्टेंट, असिस्टेंट प्रड्यूसर, रिसर्च एनालिस्ट, सीनियर रिसर्च एनालिस्ट और एसोसिएट एडिटर होते स्टॉक एडिटर जैसे बड़े पद पर पहुंचे थे।
हेमंत घई ने भारतीय फाइनेंसियल मार्केट्स में विभिन्न सेक्टर्स, स्टॉक्स और अर्थव्यवस्था का विश्लेषण करने में करीब डेढ़ दशक से अधिक का समय बिताया है और पिछले करीब एक दशक से विभिन्न बिजनेस शोज की मेजबानी करने के साथ-साथ कॉर्पोरेट सेक्टर से जुड़ी हस्तियों के इंटरव्यू कर रहे हैं।
मेरठ की चौधरी चरण सिंह यूनिवर्सिटी से कंप्यूटर एप्लीकेशन में ग्रेजुएट (BCA) हेमंत घई ने आईएमएस देहरादून से एमबीए (मार्केटिंग और फाइनेंस) किया है।
गौरतलब है कि ‘सहारा इंडिया मीडिया’, ‘तहलका मैगजीन’, ‘स्टार न्यूज’ एवं ‘सीएनबीसी-आवाज’ को अपनी सेवाओं और नेतृत्व से नई ऊंचाइयां देने वाले वरिष्ठ पत्रकार उपेंद्र राय ने कुछ समय पूर्व ही ‘भारत एक्सप्रेस’ मीडिया समूह की शुरुआत की है। यह मीडिया समूह हिंदी, अंग्रेजी और उर्दू भाषाओं में टीवी, डिजिटल और अखबार तीनों प्लेटफॉर्म पर जनता को अपनी सेवाएं देगा। उपेन्द्र राय का यह वेंचर टीवी के साथ-साथ अखबार और डिजिटल में खबरों के सभी पहलुओं पर जोर देगा। इस समूह के तहत 14 जनवरी 2023 को न्यूज चैनल लॉन्च किया जाना है, जिसमें दीपक चौरसिया जॉइन करने जा रहे हैं। फिलहाल चैनल ड्राई रन पर है।
एनडीटीवी से इस्तीफा देने के एक दिन बाद सीनियर टीवी जर्नलिस्ट रवीश कुमार ने अपने यूट्यूब चैनल पर एक वीडियो शेयर किया है।
‘एनडीटीवी’ (NDTV) से इस्तीफा देने के एक दिन बाद सीनियर टीवी जर्नलिस्ट रवीश कुमार ने अपने यूट्यूब चैनल पर एक वीडियो शेयर किया है। इस वीडियो में रवीश कुमार का कहना है कि वह उस रेड माइक को हमेशा याद करते रहेंगे।
अपने यूट्यूब चैनल ‘रवीश कुमार ऑफिशियल’ (Ravish Kumar Official) पर अपलोड किए गए दिल को छू लेने वाले इस वीडियो में रवीश कुमार ने कहा है, ‘सुबह उठते ही मेरे दिमाग में सबसे पहले रात नौ बजे का ख्याल आता था। लेकिन अब ऐसा नहीं होगा, क्योंकि अब रात नौ बजे मेरा प्राइम टाइम शो नहीं होगा। मुझे नहीं पता कि मैं अब रात नौ बजे क्या करूंगा। मैं टेलिविजन को प्यार करता हूं। शायद इसलिए भी मेरा दिल टूट रहा है। मैं उस लाल माइक को याद करता रहूंगा।’  
अपने वीडियो में रवीश कुमार ने यह भी कहा है, ‘ऐसे समय में जब देश की न्यायपालिका लड़खड़ा रही थी और सत्ता में बैठे लोगों ने तमाम लोगों की आवाज चुप कराने की कोशिश की, यह देश की जनता ही थी जिसने मेरे प्रति अपार प्रेम दिखाया। मैं अपने दर्शकों के बिना कुछ भी नहीं कर पाता। मैं लोगों से आग्रह करता हूं कि वे मेरे काम का समर्थन करना जारी रखें, जो अब मेरे नए यूट्यूब चैनल और फेसबुक पेज के माध्यम से होगा।’
गौरतलब है कि रवीश कुमार ने ‘एनडीटीवी इंडिया’ (NDTV India) के साथ अपनी करीब ढाई दशक पुरानी पारी को विराम देते हुए बुधवार को सीनियर एग्जिक्यूटिव एडिटर के पद से इस्तीफा दे दिया था। इस बारे में चैनल की ओर से जारी एक इंटरनल मेल में कहा गया था कि रवीश कुमार का इस्तीफा तत्काल प्रभाव से प्रभावी हो गया है। 
चैनल की ओर से जारी मेल में यह भी कहा गया था, ‘कुछ ही पत्रकार ऐसे हैं, जिन्होंने लोगों को रवीश जितना प्रभावित किया है। यह इस बात से परिलक्षित होता है कि वह जहां जाते हैं, लोग उनके पास खिंचे चले आते हैं। उनके बारे में लोगों से तमाम प्रतिक्रिया मिलती है। इसके अलावा उन्हें राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तमाम प्रतिष्ठित अवॉर्ड्स से नवाजा जा चुका है।’ मेल में चैनल का यह भी कहना था, ‘रवीश कुमार कई दशक से एनडीटीवी का अभिन्न हिस्सा रहे हैं। उनका योगदान अमूल्य रहा है और हम जानते हैं कि वह एक नई शुरुआत करेंगे और सफल होंगे।’  
इस्तीफा देने के बाद रवीश कुमार द्वारा अपने यूट्यूब चैनल पर शेयर किए गए वीडियो को आप नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके देख सकते हैं-
https://youtu.be/G9K9vpGTofo
पिछले कुछ दिनों में ‘मेटा’ और ‘ट्विटर’ से भी बड़े पैमाने पर एंप्लॉयीज को निकाले जाने की खबरें सामने आई थीं।
दिग्गज टेक कंपनियों में छंटनी के बीच दुनिया भर से मीडिया और एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में भी छंटनी की खबरें आने लगी हैं। ऐसी ही एक खबर मल्टीनेशनल केबल न्यूज चैनल ‘सीएनएन’ (CNN) से आई है, जहां छंटनी की कवायद शुरू हो गई है।
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, कंपनी ने बुधवार को अपने एंप्लॉयीज को यह जानकारी दी है। कंपनी की ओर से कहा गया है कि इस कवायद का असर न्यूज नेटवर्क में कार्यरत सैकड़ों एंप्लॉयीज की नौकरी पर पड़ सकता है।
कंपनी के अनुसार पिछले वर्षों में यह सबसे बड़ी छंटनी है। जिन लोगों की छंटनी की जानी है, उन्हें व्यक्तिगत रूप से अथवा जूम मीटिंग के जरिये गुरुवार से सूचित करना शुरू कर दिया जाएगा। इसके साथ ही कंपनी ने यह भी स्पष्ट किया कि जो लोग 2022 में बोनस के लिए पात्र हैं, छंटनी के बावजूद उन्हें वह दिया जाएगा।
कंपनी के सीईओ क्रिस लिक्ट (Chris Licht) की ओर से जारी इस मेल में कहा गया है, ‘हमारे एंप्लॉयीज संस्थान का दिल और आत्मा हैं। सीएनएन के लिए टीम के किसी भी सदस्य को अलविदा कहना बेहद मुश्किल है। मैंने हाल में इस प्रक्रिया को एक धक्के के रूप में वर्णित किया है, क्योंकि मैं जानता हूं कि इस तरह का फैसला हम सभी को कैसा लगता है।’
क्रिस लिक्ट के अनुसार, ‘मुझे पता है कि ये बदलाव छंटनी वाली लिस्ट में शामिल और टीम में बने रहने वाले साथियों दोनों को प्रभावित करते हैं। हमारे पास आपके सपोर्ट के लिए कई संसाधन हैं। मैं कल अपने दूसरे ईमेल में इन संसाधनों का लिंक शामिल करूंगा।’
बता दें कि सीएनएन में इससे पहले वर्ष 2018 में छंटनी हुई थी, जब कंपनी ने अपने डिजिटल बिजनेस का पुनर्गठन किया था, उस समय 50 एंप्लॉयीज को अपनी नौकरी खोनी पड़ी थी।
गौरतलब है कि पिछले कुछ दिनों में ‘मेटा’ और ‘ट्विटर’ में बड़े पैमाने पर एंप्लॉयीज को निकाले जाने की खबरें सामने आई थीं। ट्विटर में करीब 50 प्रतिशत एंप्लॉयीज को पिंक स्लिप दी गई है। इसके अलावा मेटा के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने भी पिछले दिनों वैश्विक स्तर पर करीब 11000 एंप्लॉयीज को नौकरी से निकाले जाने की बात कही थी।
सुदीप्त भट्टाचार्य, संजय पुगलिया और सेंथिल सिन्नैया चेंगलवारायण को तत्काल प्रभाव से ‘आरआरपीआर होल्डिंग प्राइवेट लिमिटेड’ के बोर्ड में निदेशक के रूप में नियुक्त किया गया है।
‘आरआरपीआर होल्डिंग प्राइवेट लिमिटेड’ (RRPRH) के डायरेक्‍टर पद से मंगलवार को प्रणय रॉय और राधिका रॉय के इस्तीफा देने के बाद सुदीप्त भट्टाचार्य, संजय पुगलिया और सेंथिल सिन्नैया चेंगलवारायण को तत्काल प्रभाव से RRPRH के बोर्ड में निदेशक (डायरेक्टर) के रूप में नियुक्त किया गया है। इन नियुक्तियों के साथ ही अडानी ग्रुप की एनडीटीवी के बोर्ड में एंट्री हो गई है।
बता दें कि एनडीटीवी के प्रमोटर्स प्रणय रॉय के नाम कंपनी में 15.94 फीसदी हिस्सेदारी है, जबकि उनकी पत्नी और राधिका रॉय का कंपनी में 16.32 फीसदी हिस्सा है। प्रणय रॉय और राधिका रॉय ही आरआरपीआर के प्रोमोटर्स थे, इस कंपनी के पास एनडीटीवी के 29.18 फीसदी शेयर थे, यानी NDTV में इनके पास कुल मिलाकर 61.45% हिस्सेदारी थी।
अब, रॉय दंपत्ति के पास कुल 32.26% हिस्सेदारी शेष है, क्योंकि इससे पहले हाल ही में आरआरपीआर ने अडानी ग्रुप के विश्वप्रधान कमर्शियल प्राइवेट लिमिटेड (वीसीपीएल) को 99.9 प्रतिशत शेयर ट्रांसफर किए थे, जिसके बाद अडानी ग्रुप को एनडीटीवी में 29.18 प्रतिशत हिस्सेदारी मिल गई थी और 26 फीसदी हिस्सेदारी के लिए वह ओपन ऑफर लेकर आया हुआ है। 
वरिष्ठ पत्रकार संजय पुगलिया बिजनेस व फाइनेंसियल न्यूज  कंपनी ‘क्विंटिलियन बिजनेस मीडिया लिमिटेड’ में एडिटोरियल डायरेक्टर भी हैं। पुगलिया AMG मीडिया के चीफ एग्जिक्यूटिव ऑफिसर (CEO) व एडिटर-इन-चीफ हैं। अडानी एंटरप्राइजेज ने 2021 में समूह की मीडिया इकाई का नेतृत्व करने के लिए अनुभवी पत्रकार संजय पुगलिया को सीईओ  व एडिटर-इन-चीफ के पद पर नियुक्त किया था।
इस साल सितंबर में संजय पुगलिया ने ‘क्विंट डिजिटल मीडिया‘ (Quint Digital Media Ltd) में प्रेजिडेंट के पद से इस्तीफा दे दिया था, जिसके बाद ‘अडानी ग्रुप’ (Adani Group) ने उन्हें अपनी मीडिया इकाई का नेतृत्व करने के लिए नियुक्त किया था।
‘क्विंट‘ को जॉइन करने से पहले संजय पुगलिया ‘सीएनबीसी आवाज’ (CNBC Awaaz) में अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे। वे चैनल की लॉन्चिंग का अहम हिस्सा रहे थे और 12 वर्षों तक इस चैनल का नेतृत्व किया था। इसके अतिरिक्त बतौर न्यूज डायरेक्टर उन्होंने हिंदी न्यूज चैनल ‘स्टार न्यूज’ (अब एबीपी न्यूज) की स्थापना की और ‘आजतक’ की फाउंडिंग टीम का हिस्सा भी रहे।
संजय पुगलिया को मीडिया के क्षेत्र में काम करने का करीब तीन दशक का अनुभव है। वह टीवी पत्रकारिता के साथ-साथ प्रिंट में भी काम कर चुके हैं। ‘आजतक’ (AajTak), ‘जी न्यूज’(Zee News), ‘स्टार न्यूज’(Star News) और ‘सीएनबीसी आवाज’(CNBC Awaaz) में अपनी जिम्मेदारी निभा चुके संजय पुगलिया ने ‘द टाइम्स ग्रुप’ (The Times Group) और ‘बिजनेस स्टैंडर्ड’ (Business Standard) के साथ भी काम किया है।
वहीं, सेंथिल चेंगलवरायण, देश की बिजनेस न्यूज मीडिया में जाना-माना नाम हैं। सेंथिल को इंडस्ट्री में काम करने का 35 साल से ज्यादा का अनुभव है। वह ‘सीएनबीसी टीवी18’ (CNBC TV18) के फाउंडिंग एडिटर और ‘नेटवर्क’ (Network 18) के बिजनेस न्यूज रूम में एडिटर-इन-चीफ रह चुके हैं।
सुदीप्त भट्टाचार्य अडानी समूह में उत्तरी अमेरिका के चीफ एग्जिक्यूटिव ऑफिसर (सीईओ) हैं। वह समूह के मुख्य टेक्नोलॉजी ऑफिसर भी हैं।
समूह में अपने वर्तमान कार्यभार से पहले, भट्टाचार्य अडानी पोर्ट्स (Adani Ports) और SEZ के सीईओ और समूह के चीफ स्ट्रैटजी ऑफिसर थे।
अडानी समूह में शामिल होने से पहले, वह इंजीनियरिंग और आईटी कंपनी ‘इनवेन्सिस’ (Invensys) के सॉफ्टवेयर बिजनेस के सीईओ थे। इससे पहले, भट्टाचार्य SAP में आपूर्ति श्रृंखला प्रबंधन (supply chain management), निर्माण (manufacturing) और इंजीनियरिंग उत्पाद पोर्टफोलियो (engineering product portfolio) के वाइस प्रेजिडेंट थे।
इसके अतिरिक्त उन्होंने 10 वर्षों तक टाटा समूह के साथ काम किया है, जहां उन्होंने प्रमुख रासायनिक संयंत्र संचालन, इंजीनियरिंग परियोजनाएं और आपूर्ति श्रृंखला संचालन का नेतृत्व किया था।
इस पद पर उनकी नियुक्ति दो साल (2022 से 2024) के लिए की गई है। वह ‘ZEE5 Global’ (जी5 ग्लोबल) के हेड अमित गोयनका की जगह यह पदभार संभालेंगे।
‘इंटरनेट एंड मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया’ (IAMAI) ने ‘लॉयन्सगेट’ (Lionsgate) के एमडी (Emerging Markets Asia) रोहित जैन को अपनी ‘डिजिटल एंटरटेनमेंट कमेटी’ (Digital Entertainment Committee) का नया चेयरमैन नियुक्त किया है। इस पद पर उनकी नियुक्ति दो साल (2022 से 2024) के लिए की गई है। वह ‘ZEE5 Global’ (जी5 ग्लोबल) के हेड अमित गोयनका की जगह यह पदभार संभालेंगे।
इसके साथ ही ‘आईवीएम पॉडकास्ट्स’ (IVM Podcasts) के हेड अमित दोसी को इस कमेटी में को-चेयर के रूप में नियुक्त किया गया है। चेयरमैन के रूप में जैन डिजिटल एंटरटेनमेंट ईकोसिस्टम के विभिन्न हितधारकों जैसे-ओटीटी प्लेयर्स, रेगुलेटरी बॉडीज और अन्य इंडस्ट्री एसोसिएशंस के साथ काम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे।
इस बारे में जैन का कहना है, ‘भारतीय मीडिया सेक्टर ने पिछले एक दशक में अपनी अपार क्षमता दिखाई है। अब ओटीटी इंडस्ट्री पिछले कई वर्षों से सुर्खियों में है। भारत में दुनिया के सबसे बड़े ओटीटी मार्केट्स में से एक बनने की गुंजाइश है। ऐसा लग रहा है कि वर्ष 2023 में 125 मिलियन ओटीटी सबस्क्राइबर्स होंगे और यह तो अभी शुरुआत है। भारत आज ओटीटी के लिए इनोवेशन हब है, चाहे वह टेक्नोलॉजी हो, मूल्य निर्धारण हो अथवा प्रयोगधर्मी कंटेंट हो। इस सेक्टर में अगले कुछ वर्षों में भारतीय मीडिया और एंटरटेनमेंट सेक्टर को 2.5 ट्रिलियन डॉलर्स तक ले जाने की क्षमता है। इस बिजनेस में इससे अधिक रोमांचक समय नहीं हो सकता है और मैं एक डिजिटल एंटरटेनमेंट ईकोसिस्टम बनाने की दिशा में एक छोटी सी भूमिका निभाने के लिए उत्साहित हूं।’
इसके साथ ही एनडीटीवी के बोर्ड ने सुदीप्त भट्टाचार्य, संजय पुगलिया और सेंथिल चेंगलवारायण को तत्काल प्रभाव से आरआरपीआरएच (RRPRH) बोर्ड का डायरेक्टर्स नियुक्त किया है।
मीडिया फर्म ‘नई दिल्ली टेलीविजन लिमिटेड‘ (NDTV) से एक बड़ी खबर निकलकर सामने आई है। इस खबर के मुताबिक ‘एनडीटीवी’ के फाउंडर्स प्रणय रॉय और राधिका रॉय ने ‘एनडीटीवी’ की प्रमोटर फर्म ‘आरआरपीआर होल्डिंग प्राइवेट लिमिटेड’ (RRPR Holding Private Limited) में डायरेक्टर्स के पद से इस्तीफा दे दिया है। ‘एनडीटीवी’ के बोर्ड ने उनके इस्तीफे को अपनी मंजूरी प्रदान कर दी है।
इसके साथ ही बोर्ड ने सुदीप्त भट्टाचार्य, संजय पुगलिया और सेंथिल चेंगलवारायण को तत्काल प्रभाव से आरआरपीआरएच (RRPRH) बोर्ड का डायरेक्टर्स नियुक्त किया है। 'बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज' (BSE) को दी गई जानकारी में ‘एनडीटीवी’ ने बताया है कि 29 नवंबर को हुई कंपनी की बोर्ड मीटिंग में यह फैसले लिए गए हैं।
बता दें कि एनडीटीवी की प्रमोटर फर्म आरआरपीआर होल्डिंग ने सोमवार को कहा था कि उसने अपनी इक्विटी पूंजी के 99.5 प्रतिशत शेयरों को अडानी समूह के स्वामित्व वाली विश्वप्रधान कमर्शियल (वीसीपीएल) को स्थानांतरित कर दिया है। इस कदम ने अडानी समूह को मीडिया फर्म के अधिग्रहण करने के और करीब पहुंचा दिया है। आरआरपीआर होल्डिंग ने स्टॉक एक्सचेंज को भेजे गए एक पत्र में कहा था कि यह इक्विटी ट्रांसफर सोमवार को किया गया।
शेयरों के हस्तांतरण से अडानी समूह को NDTV में 29.18 प्रतिशत हिस्सेदारी का नियंत्रण मिल जाएगा। अडानी ने कंपनी में अतिरिक्त 26% हिस्सेदारी के लिए 22 नवंबर से 5 दिसंबर के बीच ओपन ऑफर भी पेश किया है। स्टॉक एक्सचेंज के आंकड़ों के मुताबिक, 22 नवंबर को शुरू हुई ओपन ऑफर में अब तक 53 लाख शेयर या 31.78 फीसदी शेयरों की पेशकश की जा चुकी है।
‘भारतीय प्रतिभूति एवं विनियम बोर्ड’ (सेबी) ने सात नवंबर को प्रस्तावित 492.81 करोड़ रुपये की ओपन ऑफर को मंजूरी दी थी। ओपन ऑफर के तहत 294 रुपये प्रति शेयर की कीमत पर 1.67 करोड़ शेयरों की पेशकश की जा रही है।
59वीं एशिया-पैसिफिक ब्रॉडकास्टिंग यूनियन जनरल असेंबली के उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने मीडिया को नसीहत दी है।
सूचना-प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने मीडिया को नसीहत दी है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि भूकंप, आग और आतंकवादी हमलों में मीडिया को जिम्मेदारी के साथ रिपोर्ट करने की जरूरत है। 59वीं एशिया-पैसिफिक ब्रॉडकास्टिंग यूनियन जनरल असेंबली के उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने यह बात कही।
केंद्रीय मंत्री ने आगे कहा कि मीडिया को सुनिश्चित करना चाहिए कि आतंकवादी हमले की लाइव रिपोर्टिंग से हमलावरों को सुराग नहीं मिलना चाहिए और उनके बुरे इरादों को बढ़ावा नहीं देना चाहिए। इसलिए मीडिया को भूकंप, आग और आतंकवादी हमलों में मीडिया को जिम्मेदारी के साथ रिपोर्ट करने की जरूरत है।
वहीं, इस दौरान अनुराग ठाकुर ने कहा कि कोविड-19 का दौर दुनिया में सभी के लिए परीक्षण का समय रहा है। लॉकडाउन में मीडिया ने लोगों को बाहरी दुनिया से जोड़ा। ऐसी स्थिति में सही और समय पर जानकारी देना मीडिया की जिम्मेदारी है।
केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा भारतीय ब्रॉडकास्टर्स और भारतीय मीडिया ने आम तौर पर यह सुनिश्चित किया है कि Covid-19 के दौरान जागरूकता संदेश, महत्वपूर्ण सरकारी दिशा-निर्देश और मुफ्त ऑनलाइन परामर्श और डॉक्टर इस देश के हर कोने में हर किसी तक पहुंचे।
कार्यक्रम के दौरान अनुराग ठाकुर ने जनता के पास जाने से पहले तथ्यों की जांच करने के लिए अपने तंत्र को संस्थागत बनाने के लिए आकाशवाणी और दूरदर्शन की भी सराहना की। उन्होंने कहा कि दूरदर्शन और आकाशवाणी हमेशा प्रामाणिकता के आधार पर रिपोर्टिंग करते हैं। उन्होंने कहा कि प्रसार भारती ने कोविड में 100 से अधिक कर्मचारियों को खो दिया था, लेकिन ये फिर भी उन्हें इसे जारी रखने से नहीं रोक सका।
केंद्रीय मंत्री ने कहा एबीयू जैसे कार्यक्रम भारतीय मीडिया को इस तरह की चुनौतियों से उबरने और विश्व स्तर पर प्रसारण के हित को आगे बढ़ाने के लिए बाहरी दुनिया से बातचीत करने और सीखने की सुविधा प्रदान करते हैं। 
उल्लेखनीय है कि प्रसार भारती, भारत का लोक सेवा प्रसारक, 59वें एशिया पैसिफिक ब्रॉडकास्टिंग यूनियन (ABU) महासभा 2022 की मेजबानी कर रहा है। यह सम्मेलन 25 नवंबर को नई दिल्ली में शुरू हुआ है और इस महीने की 30 तारीख तक जारी रहेगा। यह आयोजन भारत की स्वतंत्रता के 75वें वर्ष को चिह्नित करने के लिए आजादी का अमृत महोत्सव के साथ मेल खाता है। 50 संगठनों का प्रतिनिधित्व करने वाले 40 देशों के लगभग 300 अंतरराष्ट्रीय प्रतिनिधि इस कार्यक्रम में भाग ले रहे हैं।
अमिता माहेश्वरी ने तत्कालीन सीईओ उदय शंकर के नेतृत्व में वर्ष 2009 में ‘स्टार इंडिया’ (Star India) की कोर मैनेजमेंट टीम में जॉइन किया था।
एशिया पैसिफिक (APAC) और भारत के लिए ‘डिज्नी स्टार’ (Disney Star) की एचआर हेड अमिता महेश्वरी ने यहां अपनी पारी को विराम देने का फैसला लिया है। वह यहां 13 साल से ज्यादा समय से अपनी जिम्मेदारी निभा रही थीं।
इस बारे में कंपनी के कंट्री मैनेजर व प्रेजिडेंट के. माधवन (K Madhavan) और रीजनल हेड ल्यूक कांग (Luke Kang) की ओर से एक इंटरनल मीमो भी जारी किया गया है। अमिता माहेश्वरी अब ‘केदारा कैपिटल’ (Kedaara Capital) के साथ बतौर ऑपरेटिंग डायरेक्टर (HR) अपनी नई पारी शुरू करेंगी।
अमिता माहेश्वरी ने तत्कालीन सीईओ उदय शंकर के नेतृत्व में वर्ष 2009 में ‘स्टार इंडिया’ (Star India) की कोर मैनेजमेंट टीम में जॉइन किया था। मार्च 2019 में डिज्नी द्वारा 21वीं सेंचुरी फॉक्स (21st Century Fox) के अधिग्रहण के बाद उन्हें एशिया पैसिफिक और भारत में डिज्नी की एचआर हेड के पद पर पदोन्नत किया गया।
अपने करीब 28 साल के करियर में अमिता माहेश्वरी ने तमाम इंडस्ट्रीज में वरिष्ठ नेतृत्व पदों पर रहते हुए वैश्विक स्तर पर कई विलय, अधिग्रहण और पुनर्गठन की दिशा में अपनी अहम भूमिका निभाई है। ‘स्टार’ से पहले वह Asian Paints, GE Capital, Genpact और MetLife India Insurance जैसे प्रतिष्ठित संस्थानों में अपनी जिम्मेदारी निभा चुकी हैं।
बता दें कि रुबीना सिंह ने पिछले साल अक्टूबर में ‘जोश’ जॉइन किया था। इससे पहले वह मीडिया एजेंसी ‘आईप्रॉस्पेक्ट’ (Iprospect) में चीफ एग्जिक्यूटिव ऑफिसर के तौर पर अपनी भूमिका निभा रही थीं।
शॉर्ट वीडियो ऐप ‘जोश’ (Josh) से एक बड़ी खबर निकलकर सामने आई है। विश्वस्त सूत्रों के हवाले से मिली इस खबर के अनुसार ‘जोश’ की कंट्री मैनेजर रुबीना सिंह ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है।
इस बारे में हमारी सहयोगी वेबसाइट ‘एक्सचेंज4मीडिया’ (exchange4media) ने रुबीना सिंह से संपर्क करने का काफी प्रयास किया, लेकिन खबर लिखे जाने तक वहां से कोई प्रतिक्रिया नहीं मिल पाई थी। रुबीना सिंह का अगला कदम क्या होगा, फिलहाल इस बारे में भी पता नहीं चल पाया है।
बता दें कि रुबीना सिंह ने पिछले साल अक्टूबर में ‘जोश’ जॉइन किया था। इससे पहले वह ‘डेंट्सू’ (Dentsu) की डिजिटल फर्स्ट एंड टू एंड मीडिया एजेंसी ‘आईप्रॉस्पेक्ट’ (Iprospect) में चीफ एग्जिक्यूटिव ऑफिसर (CEO) के तौर पर अपनी भूमिका निभा रही थीं।
रुबीना सिंह को डिजिटल, प्रिंट और ब्रॉडकास्टिंग के क्षेत्र में काम करने का 21 साल से ज्यादा अनुभव है। रुबीना सिंह ने ‘स्टार टीवी’ (Star TV) के साथ अपने करियर की शुरुआत की थी।
पूर्व में वह ‘नेटवर्क18‘ की ‘मनीकंट्रोल‘ (Moneycontrol) में सीओओ के रूप में अपनी भूमिका संभाल चुकी हैं। इसके अलावा वह ‘फोर्ब्स इंडिया‘,‘सीएनबीसी टीवी18‘,‘सीएनबीसी आवाज‘,‘आईबीएन7‘ और ‘आईबीएन लोकमत‘ में प्रमुख जिम्मेदारी निभा चुकी हैं।
अभी तक यहां प्रेजिडेंट के रूप में अपनी जिम्मेदारी संभाल रहीं अनुप्रिया आचार्य अब वर्ष 2022-23 के लिए AAAI बोर्ड की पदेन सदस्य होंगी
‘एडवर्टाइजिंग एजेंसीज एसोसिएशन ऑफ इंडिया’ (AAAI) में प्रशांत कुमार (Prashanth Kumar) को प्रेजिडेंट के पद पर चुना गया है। अभी तक यहां प्रेजिडेंट के रूप में अपनी जिम्मेदारी संभाल रहीं अनुप्रिया आचार्य अब वर्ष 2022-23 के लिए AAAI बोर्ड की पदेन सदस्य होंगी
पीके के नाम से लोकप्रिय प्रशांत कुमार का इस मौके पर कहना था, ‘मैं इस प्रतिष्ठित संस्था का प्रेजिडेंट चुने जाने पर बेहद सम्मानित महसूस कर रहा हूं। मेरी राय में विज्ञापन काफी गतिशील (dynamic) और विचार-चालित (idea-driven) इंडस्ट्री है। इंडस्ट्री के संस्थानों के साथ सहयोग हमें इसे प्रगतिशील तरीके से नया आकार देने में मदद करेगा, जिससे सभी को लाभ होगा। मैं समान विचारधारा वाले लोगों और संगठनों के साथ तालमेल बनाने के लिए तत्पर हूं और मुझे विश्वास है कि अगर हम एक साथ काम करते हैं तो हम अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने में सक्षम होंगे।’
बता दें कि ‘ग्रुप एम’ (GroupM) में जाने-माने नाम पीके को इंडस्ट्री में काम करने का ढाई दशक से ज्यादा का अनुभव है। ‘ग्रुप एम’ को जॉइन करने से पहले वह ‘Pepsi’, ‘The Hindu‘,‘The Media Edge‘ और ‘McCann Erickson‘ के साथ काम कर चुके हैं। इसके अलावा वह वर्ष 2020-2022 तक ‘AAAI’ के वाइस प्रेजिडेंट भी रह चुके हैं।
वहीं, निवर्तमान प्रेजिडेंट अनुप्रिया आचार्य का कहना है, ‘पिछले दो वर्षों से संस्था में प्रेजिडेंट का पद संभालना और इसके साथ आने वाली जिम्मेदारियों को निभाना मेरे लिए सौभाग्य की बात रही है। इस दौरान हमने संस्था को आगे बढ़ाने की दिशा में काफी काम किया। मैं इस अवसर पर अपने साथी बोर्ड के सदस्यों को धन्यवाद देना चाहती हूं और प्रशांत कुमार को प्रेजिडेंट चुने जाने पर बधाई देती हूं। वह लंबे समय तक भारतीय मीडिया और विज्ञापन इंडस्ट्री के प्रमुख सदस्य रहे हैं। मुझे यकीन है कि वह एसोसिएशन को मजबूती से आगे ले जाएंगे।’
गौरतलब है कि एडवर्टाइजिंग इंडस्ट्री के हितों को आगे बढ़ाने के लिए वर्ष 1945 में ‘एडवर्टाइजिंग एजेंसीज एसोसिएशन ऑफ इंडिया’ (AAAI) का गठन किया गया था।

फेक न्यूज पर लगाम लगाने के लिए पीएम मोदी के ‘मूलमंत्र’ को कितना कारगर मानते हैं आप?

Bharat Express appointed Hemant Ghai as News Director (Stocks, General Market and Business Segment).
Senior TV journalist Pashupati Sharma has started his new innings with 'India News' news channel
टॉप 5 मीडिया न्यूज़। NDTV, रवीश कुमार का इस्तीफा। mint, CNN में छंटनी। एक्सचेंज4मीडिया ग्रुप।
Ravish Kumar, Senior Executive Editor, NDTV India, has resigned from his post.रवीश कुमार का इस्तीफा
टॉप 5 मीडिया न्यूज़ : Prannoy Roy and Radhika Roy resign from 'NDTV', news anchor Pratyush Khare, TV9

It’s the most read portal on news and views on Media. Published in Hindi. It is essential reading for publishers, journalists, media planners, marketers and others who need to connect with the largest and fastest growing market segment Hindi speaking people in India.
प्रिंट
टीवी
रेडियो
डिजिटल
एडमिशन-जॉब्स
मीडिया फोरम
सोशल मीडिया
टेलिस्कोप
इंडस्ट्री ब्रीफिंग
ब्रैंड स्पीक्स
फोटो
वीडियो
Subscribe Here
Sitemap
Contact Us
Newsletters
Privacy Policy
Term & Condition
Cookie Policy
GDPR Compliance
Corrections Policy
Ethics Policy
Fact Checking Policy
Ownership Info
Editorial Team
ADSERT WEB SOLUTIONS PVT. LTD., 1st FLOOR, B-20, SECTOR 57 NOIDA (U.P)
contact@samachar4media.com
+91- 9958894163
Copyright © 2022 ADSERT WEB SOLUTIONS PVT. LTD.

source


Article Categories:
बिज़नेस
Likes:
0

Related Posts


    Popular Posts

    Leave a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *